क्या है बरमूदा ट्रायंगल तथा यह कहाँ पर स्थित है? जानते है इसके बारे में कुछ आश्चर्यजनक बातें जो शायद ही आपको पता हो

बरमूडा ट्रायंगल (Bermuda Triangle) उत्तर अटलांटिक महासागर में स्थित ब्रिटेन का प्रवासी क्षेत्र है. यह संयुक्त राज्य अमेरिका के पूर्वी तट पर मियामी (फ्लोरिडा) से महज 1770 किलोमीटर और हैलिफैक्स, नोवा स्कोटिया, (कनाडा) के दक्षिण में 1350 किलोमीटर (840 मील) की दूरी पर स्थित है। 

बरमूदा ट्राइंगल एक रहस्यमय जगह है, वहॉं पर 20 से भी ज्‍यादा हवाई जहाज और 50 से भी ज्‍यादा समुद्री जहाज अब तक गायब हो चुके है। अगर आप इसके बारे में नहीं जानते तो आप बिल्‍कुल सही जगह पर आये है।  यहॉं हम बात करेंगे उस रहस्‍यमय Bermuda Triangle की जहॉं से कोई भी व्‍यक्ति जाता है तो वापस लौट कर कभी-भी नहीं आ पाता है।   

क्या है Bermuda Triangle इतिहास ? 

इस जगह पर यह अजीब घटनाऍं आज से ही नहीं बल्कि सन्  1492 से होती चली आ रही है। Christopher Columbus ने यह कहॉं था की जब वह अपनी Ship के द्वारा समुद्र से आगे बढ़ रहे थे। तभी उन्‍हें इस क्षेत्र में बहुत सारी अजीब Lights दिखाई दी, उनका  Compass भी इस जगह पर काम करना बन्‍द कर दिया था और उन्‍हें इस जगह पर बिना हवा के लहरें उठती हुई दिखाई दी थी।

अब इसी तरह Flight 19 एक प्रसिद्ध घटना है। दरअसल 5 दिसम्‍बर, 1945 को 14 नेवी Commandos आसमान की ओर उड़ान भरते हैं, जोकि उनकी एक Training का हिस्‍सा था। अब 1 घंटे, 45 Min बाद CHARLES C. TAYLOR जोकि Flight के Leader थे, उन्‍होंने Control Tower को Radio के जरिए Message भेजा की उन्‍हें कुछ भी समझ नहीं आ रहा है की वह किस जगह पर है और उनके तीनों Compass काम भी नहीं कर रहे है। कुछ समय बाद Flight 19 गायब हो गया। वह न तो समुद्र के ऊपर, न ही समुद्र के नीचें कहीं भी दिखाई नहीं दिया। उसी दिन शाम को एक Search Plane को भेजा गया Flight 19 को खोजने के लिए लेकिन 30 Min के बाद वह Search Plane और उसके 13 Members भी गायब हो गए। किसी को भी यह पता नहीं चला कि वह दोनों प्‍लेन कहॉं चले गए थे। 

USA Cyclops की कहानी भी कुछ ऐसी ही है। दरअसल USA Cyclops जहाज़ सन् 1918 में 309 लोगों के साथ Baltimore US जा रहा था, तभी वह जहाज़ Bermuda Triangle  से गुजरते वक्‍त गायब हो गया। अमेरिकी इतिहास की यह सबसे बड़ी  Losses में से एक है, क्‍योंकि उस समय यह पहली बार हुआ था कि किसी जहाज़ के सफर में 309 लोगों की जान चली गई थी।

इस शैतानी 500000 square mile की जगह ने पिछली सदीं में कई समुद्री जहाजों और विमानों को निगल लिया था। यह जगह दुनिया कि उन जगहों में से एक है, जहाँ आसमान में अजीब-सी Lights दिखती है और बहुत से लोगों का यह भी मानना है कि इस जगह पर Alien रहते हैं। परंतु इसका कोई ठोस सबुत अभी तक किसी को भी नहीं मिल पाया है।

कहां हैं किसी को नहीं मालूम

लोग मानते हैं कि ट्रायंगल कहां हैं इसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है लेकिन ट्रायंगल के बाहर भी इसका प्रभाव रहता है। यह बात भी कई लोगों को डराती है और हैरान कर देती है। कहा जाता हैं कि अगर इस जगह पर एयरक्राफ्ट्स और जहाज गायब हो जाते हैं तो इसकी वजह से एलियंस और यूएफओ की सक्रियता।  कुछ लोग यह भी कहते हैं कि कई प्राकृतिक, भौगोलिक और दूसरी वजहों के साथ ही इस ट्राइंगल की वजह से अटलांटिस शहर गायब हुआ है। 

Bermuda Triangle की कहानी Pilot Bruce Gernon की जुबानी 

Pilot Bruce Gernon दुनिया का वह पहला इंसान था जो Bermuda Triangle से बच निकला था। Pilot Bruce Gernon यह बताते हैं की सन् 1970 में वह अपने एक दोस्‍त और पिता के साथ एक प्‍लेन में Bhamas से Miami की तरफ जा रहे थे ओर जैसे ही यह लोग Bermuda Triangle के ऊपर पहुचें तभी इन्‍हें एक बादलों का झुंड दिखाई दिया, जिसमें गोल आकृति बनी हुई थी। इनका कहना था की यह बादल इतनी तेज़ स्‍पीड से इनके पास आ रहे थे की इनको वहॉं से हटने का मौका ही नहीं मिला और यह सिधे ही बादलों के अंदर चले गए।

अब बादलों के अंदर जाते ही इन लोगों ने देखा कि बादलों के बीच-बीच में बिजलियॉं कड़क रही है, जिससे इन्‍हें प्‍लेन को Control करने में दिक्‍कत आ रही थी। वह आगे बतातें है की अब उन्‍हें ऐसा लग रहा था की जैसे वह किसी दूसरी दुनिया में आ गए है। कुछ ही समय बाद वह एक ऐसी जगह पर पहुँच गए थे, जहॉं पर ऐसी लाखों Lines बनी हुई थी, मानों कोई घड़ी के काटे हों, उसमें वह 3 मिनट तक फँसे रहें। अब उन्‍हें कुछ भी समझ नहीं आ रहा था कि उनके साथ आगे क्‍या होगा।

वह थोड़ी देर बाद बादलों कि गुफा से बाहर आए और उन्‍होंने देखा कि नीले आसमान की जगह चारों तरफ धुँआ ही धुँआ था, इनके प्‍लने में जितने भी Compass थे, उन सभी ने काम करना बंद कर दिया था।

लेकिन वह बताते हैं कि किस्‍मत से इनका सम्‍पर्क Radio Station से हुआ और उन्‍होंने कहॉं कि वह इनको वापस आने का रास्‍ता बताऍं। लेकिन Radio Station वालों ने बताया कि Pilot Bruce Gernon का प्‍लेन Radar में नहीं दिख रहा है फिर कुछ ही समय बाद धीरे-धीरे आसमान का धुँआ कम हुआ और इनका प्‍लेन दिखने लगा और हैरानी की बात तो यह थी कि जिस Radar से वह लोग बाहर आए, उनकी तब रफतार तकरीबन 3000 किमी. थी, जो बिल्‍कुल असंभव थी। क्‍योंकि दुनिया का सबसे तेज उड़ने वाला Fighter Plane की स्‍पीड़ भी इतनी तेज नहीं होती है। लेकिन सभी मुश्किलों को पार करके यह लोग प्‍लेन को Land करा लेते हैं ओर Land होते ही, Pilot Bruce Gernon एकदम चौक जाता है। क्‍योंकि प्‍लेन का सिर्फ आधा Fuel ही खर्च हुआ होता है, जोकि हैरान करने वाली बात है।

जिसके चलते कुछ वैज्ञानिकों का कहना है कि Bruce के Plane ने Time Travel किया है और वह लोग एक अलग Dimension में चले गए थे। लेकिन आज भी इस मामलें पर Research की जा रही है।

जहाज गायब होने के पीछे आखिर कौन है जिम्मेदार ?

इस क्षेत्र में जहाजों के गायब होने के कारण पर कई शोध और अध्ययन हुए लेकिन कुछ पता नहीं चल पाया। शुरुआती शोध के परिणाम बताते हैं कि बरमूडा ट्राएंगल के पास एक विशेष प्रकार का कोहरा छाया रहता है जिसमें जहाज भटक जाते हैं।

जहाजों के गायब होने का दूसरा कारण यह बताया जाता है कि इस क्षेत्र में मीथेन गैसों का भंडार है। इससे पानी का घनत्व कम हो जाता है और जहाज धीरे-धीरे पानी में समाने लगता है।

अफवाहें तो यह भी हैं कि इस क्षेत्र में एलियन्स का रिसर्च सेंटर है। एलियनों को बाहरी दुनिया के लोगों का इस क्षेत्र में प्रवेश पसंद नहीं है, इसलिए इस तरह की घटनाओं को वह अंजाम देते हैं। जहाज गायब होने के कारण अभी तक खोजे नहीं जा सके हैं।